नोटबंदी पर हर सर्वे में मोदी की बंपर जीत….खुद के सर्वे में तो 90% से ज्यादा नंबर..

0
303 views

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नोटबंदी अभियान ने पूरा विपक्ष को एक कर दिया है। सारे राजनीतिक दल एक साथ खड़े होकर संसद और बाहर मोदी का विरोध कर रहे हैं। लेकिन तमाम सर्वेक्षणों के जरिये आई जनता की राय बिल्कुल अलग है। प्रधानमंत्री मोदी ने मंगलवार को अपने एप के जरिये जनता से 10 सवाल पूछे थे।

मोदी के 10 सवाल

  1. नोटबैन पर सरकार के फैसले पर आप क्या सोचते हैं?
  2. क्या आपको लगता है कि भारत में कालाधन है?
  3. क्या आपको लगता है कि भ्रष्टाचार और कालेधन के खिलाफ लड़ना चाहिए?
  4. भ्रष्टाचार के खिलाफ सरकार के प्रयास पर क्या सोचते हैं?
  5. नोटबंदी के फैसले पर आप क्या सोचते हैं?
  6. क्या नोटबैन से आतंक पर लगाम लगेगी? नोटबंदी से भ्रष्टाचार, कालाधन और आतंक रुकेगा?
  7. नोटबंदी के फैसले से उच्च शिक्षा, रियल एस्टेट आम आदमी तक पहुंच सकेगी?
  8. नोटबंदी पर असुविधा को कितना महसूस किया?
  9. भ्रष्टाचार के विरोधी अब इसके समर्थन में लड़ रहे हैं?
  10. क्या‍ आप कोई सुझाव शेयर करना चाहते हैं

 




मोदी के सर्वे का पहला रिजल्ट

इन सवालों का पहला नतीजा खुद प्रधानमंत्री मोदी ने एक ट्वीट के जरिये घोषित किया है, आप भी देखिये-

 

modi-survey




प्रधानमंत्री के इस सर्वे में पहले 24 घंटों में ही 5 लाख से ज्यादा लोगों ने हिस्सा लिया। 93 फीसदी लोगों ने मोदी के नोटबंदी के फैसले को बहुत अच्छा बताया है सिर्फ 2 प्रतिशत लोगों ने इसे बहुत खराब कहा है। 90 फीसदी से ज्यादा लोगों ने काले धन के खिलाफ मोदी सरकार को अभियान को चार स्टार दिए। 92 फीसदी लोगों ने कहा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ मोदी सरकार अच्छा काम कर रही है। इसमें से 53 फीसदी लोगों ने तो मोदी सरकार को भ्रष्टाचार के खिलाफ बहुत अच्छा बताया है। सर्वे में 86 प्रतिशत लोगों ने कहा कि कुछ कथित एंटी करप्शन आंदोलनकारी काला धन रखने वालों का समर्थन कर रहे हैं। इस सवाल के जरिये मोदी ने अपने उन तमाम विरोधियों पर वार किया है जो नोटबंदी के खिलाफ लामबंद हैं। इसमें सबसे प्रमुख हैं अरविंद केजरीवाल।

kejriwal-1

दूसरे सर्वे क्या कहते हैं?

  1. सी वोटर के मुताबिक 80 फीसदी लोग सरकार के नोटबंदी के फैसले से खुश हैं। शहरी और ग्रामीण इलाकों में 86 फीसदी लोगों ने माना कि परेशानी तो हो ही है लेकिन इस फैसले से आने वाला कल अच्छा होगा। कस्बों में 6 फीसदी लोग मोदी के समर्थन में हैं।
  2. दैनिक जागरण अखबार के सर्वे के मुताबिक 85 फीसदी लोग मोदी के समर्थन में हैं। ‘दैनिक जागरण के मुताबिक ये सर्वे मार्केटिंग एंड डेवलपमेंट रिसर्च एसोसिएट (एमडीआरए) नाम की एजेंसी के मिलकर किया है। सर्वे में  दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, बेंगलुरु, लखनऊ, विजयवाड़ा जैसे शहरों के अलावा गांवों में अलग-अलग वर्ग में 825 लोगों से सवाल पूछे गए।

ये सर्वे थोड़ा अलग है

दैनिक हिंदुस्तान के ऑनलाइन सर्वे के नतीजे बाकी सर्वेक्षणों से थोड़ा अलग हैं। अखबार के मुताबिक 8 नवंबर को www.livehindustan.com के सर्वे में 78% लोगों ने प्रधानमंत्री मोदी के फैसले का समर्थन किया। एक हफ्ते बाद समर्थकों की संख्या  61.93%  हो गयी। जबकि दस दिन बाद 46 प्रतिशत लोग ही मोदी के फैसले के समर्थन में थे। अखबार के मुताबिक  20.41% लोगों ने कहा कि उनके खर्चों में कोई असर नहीं पड़ा जबकि 24.25%  लोगों के मुताबिक उन्हें खर्च में 20 से 30 फीसदी की कटौती करनी पड़ी। अखबार का दावा है कि इन सर्वेक्षणों में 28 हजार से ज्यादा वोट पड़े।

 





The short URL of the present article is: http://sachjano.com/skcWe