शादी के लिए पैसे निकालने के ”सात फेरे” ….बैंक को ये भी बताओ किसको दोगे पैसा..

0
476 views

रिजर्व बैंक के नोटिफिकेशन से साफ हो गया है कि 30 दिसंबर तक देश में शादी करना आसान नहीं है। शादी के कार्ड पर ढाई लाख रुपए देने का ऐलान तो सरकार ने 18 नवंबर को ही कर दिया था लेकिन इसका आदेश 21 तारीख को जारी हुआ है। यानी अब मंगलवार से शादी के लिए ढाई लाख रुपए मिलने  की संभावना है।

img_20161121_230640




शादी का पैसा निकालने के ”सात फेरे”

  1. घर में शादी हो रही है तो ढाई लाख रुपए तक बैंक से निकालने की तो छूट है लेकिन सबसे कड़ी शर्त ये है कि जितना पैसा आप निकालने जा रहे हैं उतनी रकम आपके खाते में 8 नवंबर को बैंक की क्लोजिंग के वक्त दर्ज होनी चाहिए।
  2. आपके खाते की केवाईसी यानी know your customer की औपचारिकता पूरी होनी चाहिए।
  3. पैसा तभी मिलेगा जब शादी 30 दिसंबर या उससे पहले हो।
  4. शादी के सबूत के तौर पर आपको शादी का कार्ड तो दिखाना ही पड़ेगा साथ में कोई ऐसी रसीद दिखानी पड़ेगी जिससे ये साबित हो कि आपने शादी के लिए कोई एडवांस पेमेंट किया है। ये रसीद कैटरर या बैंकेट हॉल की भी हो सकती है।
  5. पैसा सिर्फ शादी करने जा रहे लड़के या लड़की या फिर उनके माता पिता को मिल सकता है। यानी दूल्हे दूल्हन या उनके माता पिता को लाइन में लगना ही होगा। माता पिता या लड़ाका/लड़की में से एक को ही पैसा मिलेगा।
  6. जो पैसा आप निकाल रहे हैं वो किसे दिया जाएगा इसका हिसाब भी बैंक को देना होगा। यानी जिसके भुगतान करना है उसका नाम पता देना होगा औऱ उससे ये लिखवाना होगा कि उसका कोई बैंक एकाउंट नहीं है इसलिए उसे नगद पैसा दिया जाएगा।
  7. बैंक को सारे सबूत संभाल कर रखने होंगे। छानबीन होने पर इन सबूतों को देखा जाएगा।





क्या इतने कड़े नियम जरूरी हैं?

  1. शादी में जो ढाई लाख रुपए निकाले जा रहे हैं उनका भुगतान किसे किया जाएगा ये पूछने का अधिकार सरकार या बैंक को नहीं होना चाहिए। ये बहुत ही अव्यवहारिक फैसला है। अगर शादी में कोई 50 बरातियों को 1000-1000 रुपए का शगुन दे रहा है तो उनका नाम औऱ उनसे ये सार्टिफिकेट कैसे लेगा कि उनका कोई खाता नहीं है। शायद इसका जवाब सरकार या रिजर्व बैंक के पास हो।
  2. शादी में अगर कोई रिश्तेदार अपने व्हाइट पैसे से मदद करना चाहता है तो वो सिर्फ चैक से ही कर पाएगा। उसे बैंक से कैश निकालने का अधिकार नहीं होगा।
  3. छोटे गांव और कस्बों में एडवांस पेमेंट की रसीद कितनी आसानी से मिलेगी ये सरकार को समझना चाहिए।
  4. सरकार के इतने कड़े नियमों से ये साफ लगता है कि फिलहाल किसी भी सूरत में वो किसी को ज्यादा कैश निकालने के लिए प्रोत्साहित नहीं करना चाहती।

 

 

 

 







The short URL of the present article is: http://sachjano.com/jaZ8j