मोदी सरकार ऐसे कर रही है ATM और बैंक की लाइन छोटी…पैसे निकालने के नए रूल पढ़िए..

0
276 views

हिंदुस्तान के लोगों को रुपया चाहिए। अपना रुपया, जो बैंक में जमा है। 500, 1000 के नोट जब से बाजार में चलना बंद हुए हैं, पूरा देश चक्करघिन्नी की तरह कभी बैंक, कभी ATM के चक्कर काट रहा है। ऐसे में केंद्रीय वित्त मंत्रालय ने हालात की समीक्षा के लिए एक अहम बैठक की, जिसमें कई बड़े फैसले लिए गए…जिससे लोगों की परेशानियां कम की जा सकें।




    1. बैंक खाते से पैसे निकालने ही साप्ताहिक सीमा 20 हजार से बढ़ाकर 24 हजार कर दी गयी है।
    2. ATM से कैश निकासी की सीमा 2 हजार रुपये से बढ़ाकर 2500 रुपये कर दी गयी है।
    3. बैंक काउंटर से रोजाना 10 हजार की निकासी सीमा खत्म कर दी गयी है।
    4. बैंकों को एक्सचेंज सीमा भी 4 हजार रुपये से बढ़ाकर 4500 रुपये करने को कहा गया है।
    5. सीनियर सिटिजन और दिव्यांगों के लिए बैंकों में अलग काउंटर की व्यवस्था करने का सुझाव दिया गया है।
    6. कुछ अस्पतालों और कैटरर्स के ऑनलाइन पेमेंट या चेक नहीं लेने की बात सामने आई है। चेक लेने से आनाकानी करने वालों के खिलाफ जिला प्रशासन से शिकायत करने का सरकार ने सुझाव दिया है।




  1. सूबों के मुख्य सचिवों से अपील की गयी है कि ग्रामीण इलाकों में कैश की समस्या पर खास तौर से ध्यान दें।
  2. वित्त मंत्रालय, RBI और डाक घरों के अफसरों के बीच लगातार मीटिंग हो रही है, जिससे लोगों तक आसानी से कैश पहुंचाया जा सके।
  3. सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, ATM और बैंकों के जरिए लोगों ने करीब 50 हजार करोड़ की नकदी निकाली।
  4. वित्त मंत्रालय के मुताबिक, 10 नवंबर से 13 नवंबर के बीच बैंक सिस्टम में 3 लाख करोड़ के 500 और 1000 के नोट जमा किए गए।
  5. सरकारी पेंशनधारियों के सालाना सर्टिफिकेट जमा करने की डेडलाइन को बढ़ाकर 15-17 जनवरी कर दिया गया है।

 




The short URL of the present article is: http://sachjano.com/11geD