पाकिस्तान को कड़ा संदेश, इस्लामाबाद सार्क सम्मेलन में हिस्सा नहीं लेगा भारत

0
348 views

 

पाकिस्तान को कड़ा संदेश, इस्लामाबाद सार्क सम्मेलन में हिस्सा नहीं लेगा भारत

एशिया के खलनायक पाकिस्तान को पूरी तरह से अलग-थलग करने की कूटनीति पर भारत लगातार आगे बढ़ रहा है। भारत ने फैसला किया है कि 9-10 नवंबर को इस्लामाबाद में होने वाले सार्क सम्मेलन में शामिल नहीं होगा। मतलब, सार्क के मंच पर भी भारत ने पाकिस्तान को 440 वोल्ट का झटका दे दिया है।

भारत का तर्क है कि जिस तरह बॉर्डर पार से लगातार आतंकी हमले हो रहे हैं, दूसरे सदस्य देशों के अंदरुनी मामलों में दखलंदाजी हो रही है। ऐसे माहौल में सार्क सम्मेलन सफल नहीं हो सकता है। बांग्लादेश भी पाकिस्तान के तौर-तरीकों से नाराज है। बांग्लादेश का मानना है कि उसकी जमीन पर होने वाले आतंकी हमलों में पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई बड़ी भूमिका निभा रही है। अफगानिस्तान पहले से ही पाकिस्तान से परेशान है।

सार्क के मंच पर भारत को पहले से ही अफगानिस्तान, बांग्लादेश का पूरा समर्थन मिल रहा था। अब भूटान भी मजबूती से भारत के साथ खड़ा है। सार्क के गठन से लेकर उसके 31 साल के सफर में भारत हमेशा मजबूती से खड़ा रहा । लेकिन, पाकिस्तान की आतंकवाद को लेकर दोहरी नीति की वजह से भारत, अफगानिस्तान, बांग्लादेश और भूटान इस्लामाबाद में होने वाले सार्क सम्मेलन में नहीं जाना चाहते।

जानकारों का मानना है कि ऐसे में सिर्फ दो विकल्प ही बचते हैं। पहला, सार्क सम्मेलन को रद्द कर दिया जाए। दूसरा, सम्मेलन की जगह पाकिस्तान से बदल दी जाए । लेकिन, सार्क सम्मेलन की जगह बदलना भी कोई आसान काम नहीं है। मतलब, सार्क सम्मेलन का इस बार होना बहुत मुश्किल लग रहा है। भारत की कूटनीति जिस दिशा में बढ़ रही है, उससे पूरी दुनिया में पाकिस्तान अछूत बनता जा रहा है।

 

The short URL of the present article is: http://sachjano.com/zoFXA