आतंकियों को पालना कुछ देशों का शौक: सुषमा स्वराज

0
303 views

आतंकियों को पालना कुछ देशों का शौक: सुषमा स्वराज

संयुक्त राष्ट्र के मंच से भारत ने पाकिस्तान को सीधा जवाब दिया । पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के यूएन में भाषण के 5 दिन बाद भारत की बारी आई। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने पाकिस्तान पर प्रहार करते हुए कहा कि आतंकियों को पालना कुछ देशों का शौक है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान को कश्मीर का सपना देखना बंद कर देना चाहिए । कश्मीर भारत का है और रहेगा ।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने अपने 19 मिनट के भाषण में से 8 मिनट कश्मीर के नाम कर दिए थे, जिसमें उन्होंने घाटी में मानवाधिकारों के उल्लंघन का मुद्दा उठाया था। सुषमा ने नवाज शरीफ को जवाब देते हुए कहा कि जिनके घर शीशे के हों,उन्हें दूसरों के घर पर पत्थर नहीं फेंकना चाहिए ।

भारत ने संयुक्त राष्ट्र के मंच से कहा कि आतंकवाद से मुकाबले के लिए ठोस रणनीति बनानी होगी, जो देश उसमें शामिल होने में आनाकानी करे, उसे अलग-थलग कर देना चाहिए। संयुक्त राष्ट्र के मंच पर हमेशा पाकिस्तान कश्मीर का मुद्दा उठाता रहा है। जवाब में भारत कहता रहा है कि कश्मीर हमारा है, हमारा रहेगा। लेकिन, ऐसा पहली बार हुआ है, जब संयुक्त राष्ट्र के मंच से भी भारत ने आतंकवाद की जड़ पाकिस्तान को अलग-थलग करने की बात की है।

सुषमा के प्रहार से पाकिस्तान परेशान

raheel-sharif

 

संयुक्त राष्ट्र में सुषमा स्वराज ने जिस तरह से बलूचिस्तान का मुद्दा उठाया, उससे पाकिस्तान बेचैन हो गया है। संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान की प्रतिनिधि मलीहा लोधी ने आरोप लगाया कि भारत, पाकिस्तान के आंतरिक मामलों में दखल दे रहा है, जो अंतराष्ट्रीय कानूनों का उल्लंघन है। लोधी ने कहा कि जम्मू-कश्मीर भारत का अंग नहीं, विवादित क्षेत्र है।

नवाज के बाद कश्मीर पर जनरल के बोल

पाकिस्तान के आर्मी चीफ जनरल राहिल शरीफ भी दिन-रात कश्मीर का ही सपना देखते हैं। जनरल राहिल शरीफ को भी नवंबर में आर्मी चीफ के पद से रिटायर होने से बचने का रास्ता सिर्फ कश्मीर में ही दिख रहा है । उन्होंने आरोप लगाया कि भारत कश्मीर जैसे ऐतिहासिक विवादों का हल करने को लेकर गंभीर नहीं है, जिससे सीधे तौर पर भ्रम की स्थिति पैदा हो रही है और क्षेत्रीय-सांस्कृतिक संघर्ष लगातार जारी है।

The short URL of the present article is: http://sachjano.com/xlCv7